Basant Ritu In Hindi | वसंत ऋतू छोटी सी जानकारी

Basant Ritu in Hindi, वसंत ऋतू के बारे में छोटी सी जानकारी आपको अवश्य पसंद आएगी।Basant Ritu In Hindi

भारत ऋतुओ का देश है। यहां क्रमशः 6 ऋतुएँ अपनी छटा बिखेरने आती हैं। इनमे वसंत ऋतु को ऋतुराज कहते हैं। इस ऋतु के आते ही प्रकृति खिल उठती है। इसके आते ही सर्दी का प्रकोप कम होने लगता है तभी तो कहते हैं –

आया वसंत पाला उड़त।

वसंत के आते ही पेड़ – पौधे हरे – भरे हो जाते हैं। सभी प्राणियों में नया उल्लास और नई चेतना छा जाती है। बागों में रंग बिरंगे फूल खिले लगते हैं। पक्षियों की चहचहाट कानों में रस घोलने लगती है। गांवो की शोभा तो विशेष दर्शनीय होती है। पीली सरसों से लहलहाते खेत ऐसे लगते हैं   मानो धरती मां ने पीली चुनरी ओढ़ रखी हो।

 Basant Ritu In Hindi

बसंत पंचमी का उत्सव बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। इस दिन बच्चे पतंग उड़ाते हैं घरों में पीले चावल बनाए जाते हैं। स्त्रियां झूला झूलती है गुलाब, चंपा, चमेली आदि की महक वातावरण को मादक बना देती है।कवियों की कल्पना भी नए रूप लगती है। वे कह उठते हैं –

मधु ऋतु आई फागुन की, लेकर आई बहार।

यह ऋतु सबको आनंद और प्रसन्नता देने वाली है। इसका प्रत्येक दिन ही उत्सव का दिन लगता है। वसंत – पंचमी के दिन ही धर्म – रक्षा के लिए वीर हकीकत राय ने अपना बलिदान दिया था,इसलिए यह दिन में धर्म की रक्षा के लिए अपना सब कुछ अर्पित करने की प्रेरणा भी देता है।

ये भी पढ़े

  1. Best 55 Anmol Vachan In Hindi For Life
  2. Achhi Zindagi Jeene Ke लिए 80 Best Anmol Vachan
  3. Thank You Kab Bolna chaiye
  4. Jabir Hussain Biography In Hindi
  5. Rani Padmavati ki story | रानी पद्मावती की कहानी और जीवन

दोस्तों आपको वसंत ऋतू के बारे में छोटी सी जानकारी ये पोस्ट कैसी लगी। हमें comment करके अपने विचार दे। हमें बहुत ख़ुशी होगी।इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ Share ज़रूर करें। आपके पास कोई लेख है तो आप हमें Send कर सकते है।

हमारी id: helpbookk@gmail.com Right Side में जो Bell Show हो रही है उसे Subscribe कर ले। ताकि आप को समय समय पर Update मिलता रहे।

Thanks For Reading

Leave a Comment