Gadhe ki Motivational Story In Hindi

 Gadhe ki Motivational Story In Hindi समझदार गधे की समझदारी की कहानी एक गधा मैदान में घास चर रहा था। 

जब उसने सिर उठाकर देखा तो बाघ उसकी ओर आ रहा था।

अपने और बाघ के बीच की कम दूरी को देखकर गधे की समझ  में आ गया की अब तो प्राण बचाकर तो भागना असंभव है।

क्योंकि बाघ एक छलांग लगाकर मेरा काम तमाम कर देगा। गधे ने बुद्धि से काम लेने की सोची।

वह अपने पिछले पैर लगड़ाकर चलने लगा।बाघ ने गधे के पास जाकर उसके लगड़ा कर चलने का कारण  पूछा। 

गधे  ने बाघ से कहा ⇨ दौड़ते समय पैर में एक लम्बा तथा मोटा काँटा चुभ गया। इस कांटे से मेरे पैर में दर्द हो रहा है।  Gadhe ki Motivational Story In Hindi

Gadhe ki Motivational Story In Hindi

 बाघ बोला ⇨ फिर क्या करना चाहिए ?

गधाबोला ⇨ यदि तुम मुझे खाना चाहते हो तो पहले मेरा यह काँटा निकाल दो।

नहीं तो यह काँटा तुम्हारे गले में अटक जायेगा और तुम्हे अपने प्राण गवाने पड़ेंगे।

बाघ ने गधे की बात मान ली।

तत्पश्चात बाघ ने गधे के पैर को बड़े आराम से उठाया और चुभे हुए कांटे को ढूंढना शुरू किया।

गधे ने यही सही अवसर समझा और उसने कसकर बाघ को दुलत्ती जमाई और हवा की गति से भाग निकला। 

गधे की ज़ोरदार दुलत्ती और एकाएक चोट से बाघ का मुँह टेढ़ा हो गया। उसके सामने के दांत टूट गए और जबड़े से खून आने लगा। 

अंत में वह मन मसोसकर भूखा ही लौट गया। 

शिक्षा ⇨ यदि धैर्य और बुद्धि से काम लिया जाएं तो बलवान शत्रु को भी पराजित किया जा सकता है। 

ये भी पढ़े

  1. Zindagi Badal Dene Waale Kabir Ji ke AchheDohe
  2. Best 55 Anmol Vachan In Hindi For Life
  3. Yadi Me Shiksha Mantri Hota Par Blog 
  4. Achhi Zindagi Jeene Ke लिए 80 Best Anmol Vachan
  5. Thank You Kab Bolna chaiye
  6. Jabir Hussain Biography In Hindi

दोस्तों आपको समझदार गधे की समझदारी की कहानी ये पोस्ट कैसी लगी।

हमें comment करके अपने विचार दे। हमें बहुत ख़ुशी होगी। इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ Share ज़रूर करें।

आपके पास कोई लेख है तो आप हमें Send कर सकते है। हमारी id: helpbookk@gmail.com

Right Side में जो Bell Show हो रही है उसे Subscribe कर ले।

ताकि आप को समय समय पर Update मिलता रहे।

Thanks For Reading

 

Leave a Comment