महान बिल गेट्स की जीवनी – Mahaan Bill Gets Ki Jivani

0
12
views


महान बिल गेट्स की जीवनी – Mahaan Bill Gets Ki Jivani


Mahaan Bill Gets Ki Jivani


महान बिल गेट्स की जीवनी – Mahaan Bill Gets Ki Jivani

Mahaan Bill Gets Ki Jivani

नाम ⇨ बिल गेट्स (Bill Gets)
पूरा नाम ⇨ विलियम हेनरी गेट्स
जन्म ⇨ 28 अक्टूबर 1955
स्थान ⇨ सीएटल वाशिंगटन “यूनाइटेड स्टेट्स”
आवास  सयुंक्त राज्य अमेरिका
व्यवसाय  माइक्रोसॉफ्ट के अध्यक्ष
पत्नी  मेलिण्डा गेट्स
बच्चे ⇨ तीन
माता ⇨ मैरी मैक्सवेल गेट्स
पिता ⇨ विलियम H. गेट्स


आज हम फिर एक बार आपके समक्ष एक ऐसे मनुष्य की जीवनी “Biography ” लेकर आये है जिन्होंने अपने जीवन को सफल बनाने के लिए बहुत कड़ी मेहनत की और शिखर पर पहुंचे सिर्फ और सिर्फ अपनी मेहनत की वजह से। “बिल गेट्स की कमाई”

जी हाँ दोस्तों हम बात करने जा रहे है इन्ही साहब की जिनकी छवि आप ऊपर देख  रहे है इस महान शख्शियत का नाम है श्रीमान बिल गेट्स ” Bill Gates  “तो चलिए मेरे मित्रो इनकी ज़िंदगी के कुछ पन्ने जानते है जिनमें इनकी कड़ी मेहनत से लेकर सफलता तक की कहानी दर्शायी गयी है

महान बिल गेट्स परिवार के बारे में ⇨

इनके परिवार में इनके अतिरिक्त चार और सदस्य थे -इनके पिता विलियम H गेट्स जो की एक मशहूर वकील थे ,इनकी माता मैरी मैक्सवेल गेट्स जो प्रथम इंटरस्टेट बैंक सिस्टम और यूनाइटेड way के निर्देशक मंडल की सदस्य थी तथा इनकी 2 बहने जिनका नाम क्रिस्टी और लिब्बी है

बिल गेट्स (Bill Gets) ने अपने बचपन का भी भरपूर आनंद लिया तथा पढ़ाई के साथ साथ खेल कूद में सक्रीय रूप से भाग लेते रहे। उनके माता-पिता उनके लिए कानून में करियर बनाने का स्वप्न लेकर बैठे थे लेकिन उन्हें बचपन से कंप्यूटर और उसकी प्रोग्रामिंग भाषाओं में रूचि थी।

महान बिल गेट्स की जीवनी - Mahaan Bill Gets Ki Jivani


उनकी प्रारंभिक शिक्षा लेकसाइड स्कूल में हुयी जब वह आठवीं कक्षा के छात्र थे।  तब उनके विद्यालय ने A.S.R33 दूरटंकन टर्मिनल तथा जरनल इलेक्ट्रिक कंप्यूटर पर एक कंप्यूटर प्रोग्राम खरीदा जिसमें बिल गेट्स (Bill Gets) ने रूचि दिखाई। “बिल गेट्स की कार”

उसके बाद तेरह वर्ष की आयु में उन्होंने अपना पहला कंप्यूटर प्रोग्राम लिखा जिसका नाम टिक-टेक-टोए”Tic-Tec-Toe” और इसका प्रयोग कंप्यूटर से खेल खेलने के लिए किया जाता था। बिल गेट्स (Bill Gets) इस मशीन से बहुत प्रभावित थे तथा जानने को उत्सुक थे की यह सॉफ्टवेयर कोड्स किस प्रकार कार्य करते है। 


कंप्यूटर प्रोग्रामिंग के प्रति बिल गेट्स (Bill Gets) की रूचि ⇨

Mahaan Bill Gets Ki Jivani

इसके पश्चात बिल गेट्स (Bill Gets) “DEC” “PDP” और मिनी कंप्यूटर नामक सिस्टमों में रूचि दिखाते रहे परन्तु उन्हें कंप्यूटर सेण्टर कारपोरेशन द्वारा ऑपरेटिंग सिस्टम में हो रही खामियों के लिए एक महीने के लिए प्रतिबंध कर दिया गया। 

इसी समय उन्होंने अपने मित्रों के साथ मिलकर CCC के सॉफ्टवेयर में हो रही कमियों को दूर कर के लोगों को प्रभावित किया तथा उसके ततपश्चात वह CCC के कार्यलय में निरंतर जाकर विभिन प्रोग्रामों के लिए  सोर्स कोड का अध्यन करते रहे और यह सिलसिला लघभग 1970 तक चलता रहा।“बिल गेट्स के अनमोल वचन”

मात्र 17 वर्ष की आयु में उन्होंने अपने मित्र एलन के साथ मिलकर ट्राफ-ओ डाटा नामक एक उपक्रम बनाया जो इंटेल 8008 प्रोसेसर पर आधारित यातायात काउंटर बनाने के लिए प्रयोग में लाया गया। “बिल गेट्स का घर”

1973 में वह लेकसाइड स्कूल से पास हुए तथा उसके बाद हारवर्ड कॉलेज में उनका दाखिला हुआ परतुं उन्होंने 1975 में ही बिना स्नातक किये वहां से विदा ले ली। जिसका कारण था उस समय उनके जीवन में दिशा का आभाव। “बिल गेट्स की संपत्ति”

माइक्रोसॉफ्ट कंपनी का आगाज–MITS “Micro Instrumentation and Telemetry System” जिन्होंने एक माइक्रो कंप्यूटर का निर्माण किया था उन्होंने बिल गेट्स (Bill Gets) को एक प्रदर्शनी में उपस्थित होने की अनुमति दी तथा बिल गेट्स (Bill Gets) ने उनके लिए अल्टेयर एमुलेटर निर्मित किया जो मिनी कंप्यूटर और बाद में इंटरप्रेटर में सक्रिय रूप से  लगा। 

इसके बाद बिल गेट्स (Bill Getsऔर उनके साथी को Mits के अल्बुकर्क स्थित कार्यालय में काम करने की अनुमति दे दी गयी। उन्होंने अपनी जोड़ी का नाम माइक्रो-सॉफ्ट रखा तथा अपने पहले कार्यालय की स्थापना अल्बुकर्क में ही की

26 नवंबर 1976 को उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट का नाम एक व्यापारिक कंपनी के तौर पर पंजीकृत किया  माइक्रोसॉफ्ट Basic कंप्यूटर के चाहने वालों में सबसे अधिक लोकप्रिय है 1976 में ही माइक्रोसॉफ्ट MITS से पूर्णत स्वतंत्र हो गया तथा बिल गेट्स (Bill Gets) और एलन ने मिलकर कंप्यूटर में प्रोग्रामिंग भाषा सॉफ्टवेयर का कार्य जारी रखा। “बिल गेट्स house”

इसके पश्चात माइक्रोसॉफ्ट ने अल्बुकर्क में अपना कार्यालय बंद कर Bellevue Washington में अपना नया कार्यालय खोला माइक्रोसॉफ्ट ने उन्नति की और बढ़ते हुए प्रारंभिक वर्षों में कड़ी मेहनत व् लग्न से कार्य किया
बिल गेट्स (Bill Gets) भी व्यावसायिक विवरण पर भी ध्यान देते थे तथा कोड लिखने का कार्य भी करते थे। 

अन्य कर्मचारियों द्वारा लिखे गए कोड्स की समीक्षा भी खुद ही करते थे इसके बाद प्रचलित कंपनी IBM ने माइक्रोसॉफ्ट के साथ काम करने की रूचि जाहिर की | उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट से अपने पर्सनल कंप्यूटर के लिए बेसिक इंटरप्रेटर बनाने का अनुरोध किया

कई कठिनाइओं से निकलने  के पश्चात बिल गेट्स (Bill Gets) ने सीएटल कंप्यूटर प्रोडक्ट के साथ एक समझौता किया जिसके बाद एकीकृत लाइसेंसिंग एजेंट और बाद में 86-DOS के वह पूर्ण आधिकारिक बन गए
और बाद में उन्होंने इसे IBM को $80,000 के शुल्क पर PC-DOS का नाम उपलब्ध कराया। 

इसके बाद माइक्रोसॉफ्ट प्रद्योगिकी कंपनी ने अपना बहुत नाम कमाया, और आज बिल गेट्स (Bill Gets दुनिया के शिखर पर विराजमान है इनकी जितनी तारीफ़ की जाए कम है दोस्तों। 

बिल गेट्स (Bill Gets) महान शख्सियत की कुछ महत्वपूर्ण बातें ⇨

 Mahaan Bill Gets Ki Jivani

  1. बिल गेट्स (Bill Gets ने विद्यालय में शिक्षा ग्रहण करते समय कंप्यूटर प्रोग्राम बनाकर 4,200 डॉलर कमा लिए थे। 
  2. मात्र 13 वर्ष आयु में अपना पहला कंप्यूटर प्रोग्राम टिक टेक् टो लिखा। 
  3. उन्होंने अपने Teacher से कहा था की वह  30 Years ki Age तक करोड़पति बन जाएंगे और मात्र 31 वर्ष की आयु में उन्होंने अरबपति बनकर दिखाया। 
  4. फोर्ब्स की विश्व की सबसे अमीर  लोगों की सूची में बिल गेट्स (Bill Gets  का नाम लगातार 11 वर्षों तक लगातार पहले नंबर पर आता रहा। 
  5. उन्होंने 2 किताबें भी लिखी “The Road Ahead” और “Business The Spend Of Thought”  
  6. पुरे जगत में सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनी की नींव बिल गेट्स (Bill Gets द्वारा  रखी गयी। 
  7. बिल गेट्स (Bill Gets इंग्लिश के अलावा और कोई भाषा नहीं जानते। 
  8. बिल गेट्स (Bill Gets ) अमेरिका का पूरा कर्जा सिर्फ 10 साल में उतार सकते है। 
  9. अगर बिल गेट्स रोज 6.5 करोड़ रुपये खर्च करे तो भी अपनी पूरी सम्पति को खर्च करने में इन्हे 218 साल लगेंगे। 


कार के शौक़ीन बिल गेट्स (Bill Gets ने माइक्रोसॉफ्ट की पार्किंग में एक कर्मचारी की कार को ठोकर मार दी। वे कर्मचारी को अपना बिजनेस कार्ड पकड़ाकर चलते बने और कह गए की डेमेज ठीक कराने के पैसे आकर ले जाएँ। इससे “Send The Bill To Bill” की कहावत फेमस हो गयी। 

Final Word ⇨

Samajhdar Gadha Motivational Story Hindi Me 

यह आर्टिकल [महान बिल गेट्स की जीवनी – Mahaan Bill Gets Ki Jivani] कैसा लगा Comments जरुर करें। ताकि हम और useful knowledge पोस्ट शेयर कर पाये। 

Thanks

Previous articleसमझदार गधा मोटिवेशनल स्टोरी हिंदी में – Samajhdar Gadha Motivational Story Hindi Me
Next articleसिम कार्ड होंगे बंद – Sim Card Honge Band
हमारे Blog बनाने का मकसद है की आप तक हर तरह की जानकारी पहुंचा सकें इसलिए हमने अपने ब्लॉग का नाम helpbookk रखा है। Internet एक ऐसा माध्यम है जिसके द्वारा हर जानकारी प्राप्त कि जा सकती है हमारी हमेशा यही कोशिश रहेगी की आपको सभी जानकारी हेल्पफुल और हिंदी में उपलब्ध करवाई जाए जिससे आपको अधिक से अधिक लाभ मिल सके। अधिक जानकारी के लिए यहाँ दवाएं हमसे सपर्क करें : helpbookk@gmail.com
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here